Friday, June 19, 2020

MUMBAI CONGRESS ACTIVISTS BURN EFFIGY OF CHINESE PRESIDENT AS RAGE ACROSS THE NATION OVER CHINA KILLING MORE THAN 20 INDIAN ARMY PERSONALS RISES.

18th June 2020, Mumbai, Mulund - The bloody clash at the LAC in Galwan Valley, Ladakh, has sparked a wave of anti-China protests in the country. People are outraged over the fact that the Chinese brutally killed unarmed Indian soldiers in the most treacherous manner when the de-escalation process was underway. While the rage among India is raising demand for retaliation and ban on Chinese goods has gained momentum. Meanwhile Congress activists from Mumbai, in Mulund, burnt the effigy of Chinese President Xi Jinping condemning the dastardly act.



चीन द्वारा भारतीय सैनिकों की निर्मम हत्या से पूरे देश में बढ़ते रोष के बीच मुंबई के कांग्रेसियों ने चीनी राष्ट्रध्यक्ष क्षी जिनपिंग का पुतला फूंककर निषेध व्यक्त किया. 

18 जून 2020, मुंबई, मुलुंड - गालवान घाटी में एलएसी पर खूनी संघर्ष ने देश में चीन विरोधी प्रदर्शनों की लहर पैदा कर दी है। लोगों में इस बात को लेकर आक्रोश है कि चीनी-सैनिकों ने हमारे २० निशस्त्र सैनिकों को विश्वासघाती तरीके से मारा और वह भी ऐसे हालात में जब शांति वार्ता स्थापित करने का प्रयास चल रहा था। चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की मांग के साथ चीनी वस्तुओं के बहिष्कृत करने की मांग भारत में ज़ोर पकड़ रही है। इसी आक्रोश भावनाओं को व्यक्त करते हुए मुंबई के मुलुंड में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने चीनी राष्ट्रध्यक्ष क्षि जिनपिंग का पुतला फूंकते हुए भारतीय जवानों की हत्या करने वाले चीन का निषेध व्यक्त किया।